Moong Dal Halwa Recipe in Hindi |Moong Dal Halwa Banane Ki Vidhi

Moong Dal Halwa- देशी घी में बना स्वादिस्ट व पोस्टिक

Moong Dal Halwa Banane Ki Vidhi-मूंग दाल हलवा बिना छिलके वाली मूंग की दाल से बनाया जाता है जो खाने में बहुत स्वाद व पोष्टिक होती है।

जब बात इससे बने हलवे की आती है तो इसका स्वाद और भी बढ़ जाता है. मूंग दाल हलवा मिठाई

में आने वाली एक बेहद स्वादिष्ट डिश है जो सारे भारत में खूब पसंद की जाती है व ज्यादातर त्योहारों पर बनाई जाती है

अगर स्थान विशेष की बात की जाये तो मूंग दाल हलवा सबसे ज्यादा राजस्थान में बनाया व खाया जाता है।

मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) देशी घी के साथ बनाया जाता है जिससे इसका स्वाद बेहद शानदार हो जाता है।

लेकिन साथ ही साथ बहुत ताकत देने वाला भी होता है या कहें अत्यंत गरिष्ठ मिठाइयों में से एक डिश है तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी।

इसीलिए इसको सर्दियों में ज्यादा बनाया जाता है. खासकर दीवाली व दीवाली के आस-पास आने वालें त्योहारों पर मूंग दाल हलवा ज्यादा बनाया जाता है।

कुछ जगहों पर इसको मूंग दाल शीरा व अन्य कई नामों से भी जाना जाता है।

मूंग दाल हलवा-(Moong Dal Halwa)- के अलग अलग तरीकें

दाल का हलवा काफी तरह से बनाया जाता है जिससे इसके स्वाद व रंग रूप में भी कुछ बदलाव होते है लेकिन फिर भी मूंग दाल हलवा अपना मूल स्वरुप नहीं खोता।

यानि स्वाद व पोष्ठिकता बरक़रार रहती है कुछ लोग मूंग दाल को पहले भिगोते है व फिर पीसकर इसका हलवा तैयार करते है।

वही दूसरी तरफ कुछ लोग जिनकों समय की कमी होती है वे मूंग दाल को बिना भोगोये सीधे सूखी दाल पीस लेते है।

देखिये तरीके दोनों ही सही है लेकिन आज हम अपनी मूंग दाल हलवा रेसिपी के माध्यम से एक

ऐसी मूंग दाल हलवा बनाने की विधि के बारे में बताएँगे जो बेहद आसान होने के साथ-साथ इस तरह से रची या बनाई गई है कि जिससे मूंग दाल हलवे का स्वाद व प्रमाणिकता दोनों बरक़रार रहेंगी।

सबसे बड़ी बात इसमें लगने वाली ज्यादातर सामग्री आपके घर में ही मिल जायेगी और आपको कोई असुविधा नहीं होगी।

चलें देखते है मूंग दाल हलवा में लगने वाली सामग्री

मूंग की दाल – 250 ग्राम (चार से पांच घंटे भिगोकर राखी हुई)

देसी घी – 250 ग्राम

चीनी – 250 ग्राम

बादाम – 10 से 15 (लम्बाई में कटे हुएं)

काजू – 10 से 15 (दो दुकड़ों में किये हुएं)

दूध – 400 ग्राम (फुल क्रीम)

किशमिश – 1 से 2 टेबल स्पून

पिस्ता – 6 से 7 (बारीक कतरन में कटे हुएं)

इलायची – 5 से 6 (दानें निकालकर पिसे हुएं)

मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) बनाने की विधि रेसिपी ऑफ़ मूंग दाल हलवा

पहले से भिगोकर राखी हुई दाल को पानी से निकाल लें व किसी ऐसे जालीदार बर्तन में कुछ देर के

लिए रख दें

ताकि इसका अतिरिक्त पानी निकल जायें एक मिक्सी जार में दाल को दरदरा पीस लें

दाल का हलवा बनाने के लिये सही बर्तन का चयन

अब मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) बनाने के लिए एक भारी तले की कढ़ाई या पेन में घी

डालकर उसमे पीसी दाल का पेस्ट डालकर चलाते हुएं भूनें।

आंच मीडियम ही रखें और थोड़ी थोड़ी देर में किसी पलटे की सहायता से चलाते रहें।

इस मूंग दाल हलवे के पेस्ट को भूनने में लगभग 25 से 30 मिनट लगते है क्योंकि दाल में पानी होता

है।

जब पीसी हुई मूंग दाल घी छोड़ने लगे इसका रंग हल्का गुलाबी हो जाये व कढ़ाई में

चिपकना बंद हो जाये तो समंझियें आपकी मूंग दाल घी में अच्छे से भून चुकी है।

इसमें आधे बादाम व आधे काजू मिला दीजिये व भूनियें ताकि सूखे मेवे हलवे के साथ

हल्के रोस्ट हो जायें इससे इनका स्वाद और भी बढ़ जाता है

चीनी में एक कप पानी मिलकर उसकी चाशनी पका लिजिये व धीरे धीरे चलाते हुए (Moong Dal Halwa) भूने बेटर में डाल दीजियें।

आपको लगे चाशनी हलवे में मिल चुकी है तो धीरे धीरे हलवे में दूध डालिए व चलाते रहें

अब आप देखेंगे कि मूंग दाल हलवा-Moong Dal Halwa-अपने असली स्वरुप में आने लगा है।

(If)अगर लगे कि हलवा अभी भी बहुत टाइट है तो आधा कप दूध और मिला दीजिये हलवे को

धीमी आंच पर चलाते हुए पकाते रहें इसमें लगभग 10 मिनट और लगेंगे

मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) तैयार है आंच से उतर लिजिये व बाकि बचे बादाम

काजू व किशमिश व कटे पिस्ते ऊपर से डालकर सर्व कीजिये। आप इसका आनंद गर्म व ठंडा करके दोनों तरह

से ले सकते है

Moong Dal Halwa-मूंग की दाल  व देशी घी से बना मूंग की दाल का हलवा
Moong Dal Halwa-मूंग की दाल व देशी घी से बना मूंग की दाल का हलवा
Foodiedil के सुझाव:

हलवे का अच्छे से भूनना बहुत जरुरी है अतः ध्यान से भूनें

(If you want) आप चाहें तो मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) सूखी दाल को पीसकर व

घी में उसको भूनकर भी बना सकते है उसमे आपका समय तो बचता है लेकिन दाल

को भिगोकर पीसकर बनाया गया हलवा अधिक स्वादिस्ट व स्वास्थ्यवर्धक होता है।

इसमें कोई संदेह नहीं है और ये बात मैं ऐसे ही नहीं बता रहा हूँ।

सीधे चीनी डालने से कभी कभी चीनी अच्छे से एकसार नहीं हो पाती है।

अतः चीनी की चाशनी बनाकर मिलाना ज्यादा अच्छा होता है

और (Moong Dal Halwa) स्वाद ज्यादा उभरकर आता है।

Moong Dal Halwa Recipe में प्रयोग होने वाली दाल के भीगने व अच्छे से धुलने के कारण

दाल की सारी अशुद्धियाँ निकाल जाती हैं जो सूखी दाल पीसने से उसके अंदर ही रह जाती है।

चाहे आप सूखी दाल को कितना भी कपडे से रगड़ रगड़ कर साफ करें लेकिन उसमे लगी पोलिश

पूर्ण रूप से तोधुलने के बाद ही साफ हो पाती है।

इसीलिये कोशिश करे की मूंग दाल हलवा (Moong Dal Halwa) बनाते हुएं दाल को पहले ही भिगो दे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *