Mooli Ka Paratha | Muli Paratha | Muli Ke Paratha | Mooli Ka Paratha Banane Ki Vidhi

ठंडी का मौसम और भरवा पराठों की भरमार, और अगर वह मूली के पराठे हो तो

वाह जी वाह कहने ही क्या  सर्दियों का मौसम आते ही सब्जी के ठेले, दुकानें इत्यादि

सब मूलियों से भर जाते है जहां तहा आप को मूली के ढेर देखने को मिल जायेंगे

मूली पराठा (Muli Paratha) में इस्तेमाल होने वाली मूली होती है

बहुत सेहतमंद

मूली सर्दियों के मौसम में बहुत सेहतमंद तो होती ही है बहुतायत में आने के कारण किफायती

(सस्ती) भी खूब हो जाती है, मूली मिट्टी के अंदर उगने वाली एक बहुत फायदेमंद व हमारे स्वास्थ्य के

लिए अत्यंत लाभकारी सब्जी होती है.

मूली बहुत सारे रोगों को दूर करने में काम आने वाली सब्जी है जिसको खाने से हमारी भूख भी बढती है

मूली का पराठा बनाने की विधि (Mooli Ka Paratha Banane Ki Vidhi) कई प्रकार की हो

सकती है, आज हम मूली को आटे की लोई के अंदर भरकर मूली के पराठे (Mooli Ka Paratha)

बनायेंगे कुछ लोग आटे और कद्दुकस की हुई मूली को साथ में गूथ लेते है और मूली के पराठे

(Muli Ke Paratha) बनाते है तो चलिये सबसे पहले मूली के पराठों (Mooli Ka Paratha) में लगने

वाली सामग्री ले लेते हैं

मूली का पराठा (Mooli Ka Paratha) बनाने में लगने वाली सामग्री

  • गेहूं का आटा  – 400 ग्राम
  • नमक – स्वादानुसार ( आधा छोटी चम्मच)
  • तेल – 4 से 5 चम्मच
  • मूली –  500 ग्राम
  • हरा धनिया –  50 ग्राम (बारीक कटा हुआ)
  • हरी मिर्च – 2 से 3  ( बारीक कटी हुई)
  • अदरक  – 1 इंच लम्बा टुकड़ा (बारीक कटा हुआ)
  • भुना हुआ जीरा – 1 छोटी चम्मच (तवे पर हल्का सेंक कर दरदरा किया हुआ)
  • नमक –  स्वादानुसार (एक छोटी चम्मच)

मूली का पराठा बनाने की विधि (Mooli Ka Paratha Banane Ki Vidhi)

4 से 5 चम्मच सूखा आटा बेलते समय प्रयोग करने के लिए बचाते हुए बचे आटे को थोडा नमक,

दो चम्मच तेल डालकर थोडा-थोडा पानी डालते हुए गूथे व रेस्ट करने के लिए छोड़ दें

मूली को अच्छे से धोकर साफ कर करके कद्दुकस कर लें व अच्छे से निचोड़ कर अतिरिक्त

पानी को निकाल दें

Mooli Ka Paratha के लिए निचोड़ कर रखी हुई मूली
Mooli Ka Paratha के लिए निचोड़ कर रखी हुई मूली

मूली पराठे (Muli Paratha) के लिए मसाला

मूली का पराठा (Mooli Ka Paratha) बनाने के लिए कद्दुकस की गयी मूली में बारीक काटकर

राखी हुई हरी मिर्च, काटकर रखा हरा धनिया, नमक व सूखे मसाले डालकर मिलाकर अच्छे से

मसाला तैयार कर लें व छोटे-छोटे लड्डू जैसे आकार के गोले बना कर रखें

Mooli Ka Paratha के लिए तैयार मसाला
Mooli Ka Paratha के लिए तैयार मसाला

गूथकर रखे आटे को दो चार हाथ मार लें व छोटी लोई बना लें जैसी रोटी बनाने के लिए बनाते हैं

लोई का हाथ से फैला कर उसके अंदर मूली के मसाले का गोला डाल कर अच्छे से लोई बंद करें

और थोडा सूखा आटा छिड़क कर बेलन से बेलकर पराठा बेलें

मूली के पराठे (Mooli Ka Paratha) सेंके

चूल्हे पर तवा रखकर गर्म कर लें व उस पर पराठा डालकर सेंके, पलट कर दोनों तरफ तेल लगाकर

गुलाबी होने तक सेंके, बाकी के बचें सारे पराठों को इसी प्रकार सेंक लें

Mooli Ka Paratha तवे पर सिकता हुआ
Mooli Ka Paratha तवे पर सिकता हुआ

मूली के पराठे खाने के लिए एकदम तैयार है किसी भी झोल वाली (रेशेदार) सब्जी, दही, चाय या अचार

के साथ इन मूली के पराठों (Muli Paratha) का आनंद लें

मूली पराठा (Mooli Ka Paratha) बनाते हुए कुछ जरूरी सुझाव :

कद्दुकस की हुई मूली को खूब कस के अच्छे से निचोड़ लें क्योंकि मसाला ज्यादा गीला रह जाने पर मूली

के पराठे में भरते हुए परेशानी होती है

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *