लोबिया (Lobia Ki Fali Ki Sabji) को संस्कृत में लोभ्य कहते है व बहुत सारे अन्य नाम जैसे ‘चौला’ या ‘चौरा’ चवली या बरबटी के नाम से भी जाना जाता हैं. यह एक ऐसा पौधा है जिसकी फलियों की सब्जी बनायी जाती है. लोबिया की फली प्रायः हरे रंग की होती है लेकिन बहुत कम मात्रा में लाल रंग की भी पाई जाती है जो बेहद दुर्लभ स्वादिस्ट व लाभकारी गुणों से भरी होती हैं.

लोबिया (Lobia Ki Fali Ki Sabji) बहुत स्वादिष्ट व शरीर को पोषण देने वाला होता हैं। माना जाता है कि इसके अन्दर फैट लेशमात्र भी नहीं होता है, और इसिलिए कैलोरिज भी कम होती हैं.

यह डायबिटीज से लेकर हार्ट पेशेंट्स तक बहुत सारी बिमारियों में लाभ देने वाला होता है गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है. लोबिया में फोलिक एसिड, प्रोटीन व पोटैशियम की बहुत अच्छी मात्रा होती हैं. हमारे खानों में फलियों का बड़ा योगदान है फिर चाहे वो ग्वार की फली हो या कोई भी बीन्स.

आज हम दुर्लभ लाल रंग की लोबिया की फलियों की सब्जी (Lobia Ki Fali Ki Sabji) बनायेंगे

Lobia Ki Fali Ki Sabji-Lobiya Ki Fali Ki Sabji-लोबिये की फली लाल रंग की

Lobia Ki Fali Ki Sabji-Lobiya Ki Fali Ki Sabji-लोबिये की फली लाल रंग की

लोबिया की फली की सब्जी बनाने के लिए सामग्री | Lobia Ki Fali Ki Sabji

  • लोबिया की फली – 500 ग्राम (साफ करके छोटे-छोटे टुकड़ों में काटी हुई)
  • आलू – 2 से 3 आलू (छीलकर छोटे टुकड़ों में काटे हुए)
  • प्याज – 2 मीडियम आकार के बारीक काटे हुए
  • अदरक – 1 इंच का टुकड़ा बारीक काटा हुआ
  • लहसुन – 4 से 5 कली बारीक काटी हुई या आधा छोटी चम्मच लहसुन पाउडर
  • हरी मिर्च – 2 बारीक काटी हुई
  • टमाटर – 2 से 3 बारीक काटे हुए
  • पिसी हल्दी – आधा छोटी चम्मच
  • जीरा – 1 छोटी चम्मच
  • हींग – 1 चुटकी
  • लाल मिर्च कुटी हुई – आधा छोटी चम्मच
  • कश्मीरी लाल मिर्च – आधा छोटी चम्मच
  • पिसा सूखा धनिया – 2 छोटी चम्मच
  • शाही गर्म मसाला – ¼ छोटी चम्मच
  • तेल – 3 से 4 चम्मच (कोई भी कुकिंग आयल)
  • नमक – 2 छोटी चम्मच या स्वादानुसार

लोबिया की फली की सब्जी बनाने की विधि | Lobia Ki Fali Ki Sabji

एक कडाही में तेल गर्म कर लें, जीरा डालकर चटकायें व हींग डालें साथ ही काटे हुए प्याज, हरी मिर्च, अदरक व लहसुन डालकर गोल्डन होने तक लगातार चलाते हुए भूने, सारे सूखे मसाले हल्दी, धनिया, लाल मिर्च, कश्मीरी लाल मिर्च व गरम मसाला डालकर हल्का भूनें, नमक डालकर मिलायें.

लोबिया की फली व आलू डालें | Lobia Ki Fali Ki Sabji

भूनें मसाले में आलू व लोबिया की फली डालकर बढ़िया तरीके से मिला दें व आंच को मध्यम कर दें, सब्जी को ढककर 5 से 6 मिनट तक पकने दें.

उघाड़कर पलटे से अलट पलट करें व फिर से 3 से चार मिनट तक ढककर पकने दें, सब्जी में पानी डालने की आवश्यक्ता लगे तो 3 से 4 चम्मच पानी डालें व पकने दें, वैसे लोबिया और आलू खुद से ही इतना पानी छोड़ देते है कि पानी डालने की जरुरत नहीं पड़ती. अगर आंच को ज्यादा तेज रखेंगे तो पानी डालना पड़ेंगा नहीं तो सब्जी तले में चिपक कर जल जायेगी जिससे स्वाद पर असर आ सकता है.

अब उघाड़कर सब्जी को चेक करे अगर आलू व फलियों के पीस गल चुके है तो बीच में जगह बनाकर उसमे काटे हुए टमाटर डालकर पांच मिनट के लिए मीडियम आंच पर ढक्कन लगाकर पकाएं. टमाटर बिलकुल मैश हो जाये तो सारी सब्जी में मिला दें. लोबिया की फली की सब्जी खाने के लिए तैयार है, हरी धनिया पत्ती हो तो ऊपर से डालें और रोटी या पराठों के साथ इसका स्वाद लें.

Lobia Ki Fali Ki Sabji-Lobiya Ki Fali Ki Sabji- लोबिया की फली की सब्जी-लोबिये की फली लाल रंग की

Lobia Ki Fali Ki Sabji-Lobiya Ki Fali Ki Sabji- लोबिया की फली की सब्जी-लोबिये की फली लाल रंग की

लोबिया की फली की सब्जी बनाने की विधि की विडियो यहाँ देखें | Lobia Ki Fali Ki Sabji watch here
लोबिया के अन्य फायदें | Other Benefits of Lobia | Benefits of Cowpea | Black Eyed Pea

कृषि उपयोगी यह पौधा जड़ से फुलंग तक बहुत काम की चीज है जहाँ इसके फल से कई प्रकार की सब्जी व अन्य खाने की चीजे बनाई जाती है वही इसके पत्ते पशुओं के लिए बहुत उपयोगी चारे के रूप में काम लिए जाते हैं, और तो और इसकी जड़ भी खेतो को उर्वरक बनाने का काम करती है, वर्षों से किसान जब खेत की जमीन फसल के लिए कमजोर पड़ जाती है तो लोबिया (Lobia Ki Fali Ki Sabji) को उगाकर जमीन को मजबूती प्रदान करते हैं, हरी खाद बनाने में भी यह पौधा बहुत काम आता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Lobia Ki Fali Ki Sabji | लोबिया की फली की सब्जी | लोबिये की फली की सब्जी | Lobiya Ki Fali Ki Sabji

Lobia Ki Fali Ki Sabji-Lobiya Ki Fali Ki Sabji- लोबिया की फली की सब्जी